समाचार
लव जिहाद के खिलाफ योगी सरकार ला रही कानून, कानून विभाग को भेजा गया प्रस्ताव

उत्तर प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ सख्त कानून बनाने के लिए गृह विभाग ने मसौदा तैयार कर लिया है। इस प्रस्ताव को परीक्षण के लिए विधि विभाग के पास भेजा गया है। अगर सब सही रहा तो जल्द ही इसके खिलाफ सख्त कानून बना दिया जाएगा।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, लव जिहाद को लेकर कवायद शुरू करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है। प्रदेश के कई जिलों से बीते दिनों इसके मामले सामने आने के बाद कानून बनाने को लेकर चर्चा तेज़ हो गई थी।

बीते दिनों इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने एक फैसले में कहा था कि सिर्फ शादी के लिए धर्म परिवर्तन वैध नहीं है। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी ने भी घोषणा की थी कि प्रदेश सरकार इसके खिलाफ जल्द सख्त कानून लाएगी।

जौनपुर में एक जनसभा के संबोधन के दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा था, “उच्च न्यायालय कह चुका है कि शादी के लिए धर्म परिवर्तन वैध नहीं है। इस वजह से सरकार निर्णय ले रही है कि इसे रोकने के लिए प्रभावी कानून बनाया जाएगा। नाम और धर्म छुपाकर जो लोग बहन-बेटियों संग खिलवाड़ करते हैं, उनको मेरी चेतावनी है कि वे सुधर जाएँ नहीं तो राम नाम सत्य है की उनकी यात्रा अब निकलने वाली है।”

राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र ने घोषणा की कि जल्द ही इससे जुड़ा कानून विधानसभा में पेश किया जाएगा। ये गैर जमानती अपराध होगा और दोषियों के लिए पाँच साल तक की सज़ा का प्रावधान होगा।