समाचार
योगी आदित्यनाथ बोले, “जिस क्षेत्र में हो एक भी मामला उसे सील करें जिलाधिकारी”

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश जारी करते हुए कहा, “जिन जिलों में कोरोनावायरस का एक भी सकारात्मक मामला आया हो, उनमें भी प्रभावित क्षेत्रों को सील किया जाए। जिलों को सेक्टर में बाँटकर वहाँ सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए जाएँ।”

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार शाम को सभी जिलों के जिलाधिकारी (डीएम) और पुलिस अधीक्षक (एसपी) के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी।

उन्होंने कहा, “कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए किसी तरह का कोई खतरा मोल नहीं लिया जाएगा। एक महीने में वायरस एक जिले से 40 जिलों में फैल गया है। 15 जिलों में जिस तरह के कड़े कदम उठाए गए हैं, बाकी 25 जिलों में भी वैसा ही करें। प्रभावित क्षेत्र को सील करें। वहाँ केवल मेडिकल, आपूर्ति और सफाई से जुड़े कर्मियों को जाने की अनुमति हो।”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “कुछ जगहों पर लॉकडाउन का अब भी सख्ती से पालन नहीं हो रहा है। ऐसी लापरवाही पर अधिकारियों की जवाब-देही तय होगी। अधिकारी घर-घर जाकर सर्वेक्षण करवाएँ। अगर किसी में भी लक्षण हैं तो उनकी परीक्षण करवाएँ। हर जिले में सैंपल एकत्रित करने वालें केंद्र बनाए जा रहे हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “लखनऊ में सुबह 9.30 बजे से शाम 6 बजे तक गाड़ियाँ नहीं चल सकेंगी। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की गाड़ियों, डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, प्रशासन, बिजली विभाग, पुलिस, मीडिया, सामुदायिक रसोई, स्वयंसेवी संगठनों के वाहनों पर यह नियम लागू नहीं होगा।”