समाचार
इमरान खान को मुस्लिम हित पर दोहरे मापदंडों के लिए विश्व उइगर कांग्रेस की फटकार

विश्व उइगर कांग्रेस (डब्ल्यूयूसी) ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर मुस्लिमों के प्रति दोहरे मानदंड अपनाने का आरोप लगाते हुए चीन में उइगर मुसलमानों के साथ हो रहे जातीय उत्पीड़न पर उनको जमकर फटकार लगाई।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, डब्ल्यूयूसी के अध्यक्ष डॉल्कुन ईसा ने कहा, “यह शर्म की बात है कि इस मामले में ना सिर्फ इस्लामाबाद चुप है बल्कि वह चीन के अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय के खिलाफ बीजिंग की नीति का समर्थन कर रहा है।”

रिपोर्ट में उनके हवाले से कहा गया, “कुछ महीने पूर्व अंतर-राष्ट्रीय पत्रकारों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से उइगर मुद्दे के बारे में कई बार पूछा था लेकिन उन्होंने कहा कि वह नहीं जानते और उन्हें इस बारे में नहीं पता है।”

ईसा ने कहा, “पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हर समय कश्मीर मुद्दे को उठाते हैं लेकिन बात जब उइगर की आती है तो वह अपनी आँखें बंद कर लेते हैं और चीन की नीति का समर्थन करते हैं। यह एक दोहरा मानक है और शर्म की बात है।”

14 अगस्त को अल जज़ीरा पर प्रसारित एक साक्षात्कार में इमरान खान से पत्रकार मोहम्मद जामज़ूम ने पूछा था, “क्या उन्होंने कभी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ उइगर मुसलमानों के मुद्दे पर चर्चा की थी।” इस पर इमरान खान ने कहा था, “नहीं मैंने नहीं की। हम अभी अपनी आंतरिक समस्याओं से जूझ रहे हैं इसलिए मुझे इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है।”