समाचार
विश्व बैंक- चीन समेत चार देशों के आँकड़ों में अनियमितता के कारण रुका रिपोर्ट प्रकाशन

विश्व बैंक ने डूइंग बिजनेस की रिपोर्ट के प्रकाशन को रोकने की घोषणा की है। उन्होंने यह कदम अक्टूबर 2017 और 2019 में प्रकाशित पिछली रिपोर्टों के आँकड़ों में बदलाव में हुई अनियमितताओं के बाद लिया है।

एक बयान में विश्व बैंक समूह ने कहा, “हमने अपने स्वतंत्र आंतरिक लेखा परीक्षा कार्य से डाटा संग्रह प्रक्रिया और डूइंग बिजनेस रिव्यू की समीक्षा के लिए आँकड़ों को ऑडिट करने व डाटा की सुरक्षा के लिए नियंत्रण बनाने को कहा है।”

उन्होंने कहा, “क्रमश: अक्टूबर 2017 और 2019 में प्रकाशित डूइंग बिजनस रिपोर्ट 2018 और डूइंग बिजनस रिपोर्ट 2019 के डाटा में बदलाव के संबंध में कई अनियमितताएँ सामने आई हैं। डाटा में बदलाव डूइंग बिजनेस की कार्यप्रणाली के साथ असंगत थे।”

इसमें कहा गया है कि विश्व बैंक निष्कर्षों के आधार पर कार्य करेगा और अनियमितताओं से सबसे अधिक प्रभावित होने वाले देशों के आँकड़ों को सही ढंग से पेश करेगा। इसकी जानकारी रखने वाले एक व्यक्ति ने वॉल स्ट्रीट जर्नल के हवाले से कहा था कि चार देशों चीन, अज़रबैजान, संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब के बारे में आँकड़ों को अनुचित रूप से बदल दिया गया था।

विश्व बैंक के कार्यकारी निदेशकों को स्थिति के बारे में जानकारी दी गई है। बयान में कहा गया है कि फिलहाल डूइंग बिजनेस की रिपोर्ट के प्रकाशन को रोक दिया जाता है, जब तक इसका मूल्याँकन नहीं कर लिया जाता है।

अक्टूबर 2019 में जारी की गई डूइंग बिजनेस 2020 की कारोबार सुगमता रिपोर्ट में भारत उन देशों में शामिल था, जिनमें उल्लेखनीय सुधार देखने को मिले थे। इसमें देश 63वें पायदान पर रहा था।