समाचार
निर्णय के चार माह बाद सर्वोच्च न्यायालय करेगा सबरीमाला समीक्षा याचिका पर सुनवाई

प्रजनन आयुवर्ग की महिलाओं को सबरीमाला मंदिर में प्रवेश की अनुमति देने वाले सर्वोच्च न्यायालय के 28 सितंबर के निर्णय पर समीक्षा याचिकाओं की सुनवाई आज (6 फरवरी) को होगी, न्यूज़ 18 ने बताया।

न्यायालय की अवमानना को छोड़कर कथित रूप से 65 याचिकाएँ न्यायालय में विचाराधीन हैं। रंजन गोगोई के नेतृत्व में एक बेंच इनपर सुनवाई करेगा। 13 नवंबर को सर्वोच्च न्यायालय समीक्षा योचिकाओं पर सुनावई के लिए तैयार हो गया था लेकिन इसने अपने पूर्व निर्णय को स्थगित करने की बात को अस्वीकारा था।

इसी बीच कई महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश का प्रया किया। राज्य सरकार ने 51 महिलाओं की सूची दी है और दावा किया है कि इन महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश किया है। सर्वोच्च न्यायालय में इस प्रकार की सूची दर्ज करने के लिए सरकार को न्यायालय समेत कई संस्थाओं ने फटकारा।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि देवास्वोम मंत्री कडकमपल्ली सुरेंद्रन ने विधान सभा में कहा कि केवल दो महिलाएँ ही मंदिर में प्रवेश कर पाई हैं और सरकार की 51 महिलाओं की सूची पर अविश्वास जताया।