समाचार
हॉस्टल डेज़ में साधुओं की गलत छवि दिखाने पर अमेज़ॉन को न्यायालय ले जाएगा इस्कॉन

पाताल लोक के विवाद के बाद अब इस्कॉन ने वीडियो स्ट्रीमिंग वेबसाइट अमेज़ॉन प्राइम को एक नोटिस दिया है। इसमें कहा गया है कि वेब सीरीज हॉस्टल डेज़ में साधुओं की छवि को गलत तरीके से पेश किया गया है इसलिए उसे हटा दिया जाना चाहिए।

इस्कॉन के प्रवक्ता राधारमण दास ने चित्रण को बेहद आपत्तिजनक बताया और अमेज़ॉन प्राइम को न्यायालय में ले जाने की बात भी कही।

दास ने हॉस्टल डेज़ के सीज़न-1 के अध्याय-2 से एक वीडियो क्लिपिंग भी साझा की है। इसमें एक किरदार दूसरे को अलग कॉलेज क्लब के चयन पर उसे उकसाता दिखता है और कहता है कि इससे बढ़िया चुटिया निकालकर इस्कॉन में भर्ती हो जा। दिनभर कीर्तन करता तो पाप भी कट जाता और प्रसाद भी मिलता।

दास ने कहा कि इस्कॉन के पास हजारों योग्य साधु हैं, जिनके पास आईआईटी जैसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों से डिग्री हासिल है। उन्होंने मानवता की सेवा के लिए अपना जीवन समर्पित किया है। इस पर अमेज़ॉन के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

इस्कॉन ने पहले शीमारो के विरुद्ध हास्य कलाकार सुरलीन कौर द्वारा स्टैंडअप कॉमेडी के शो को लेकर शिकायत दर्ज करवाई थी। इसमें कहा गया था, “बेशक हम सब इस्कॉन वाले हैं पर अंदर से सुन हरामी पॉर्न वाले हैं…।”

इस्कॉन के एक बयान में दावा किया गया था कि बिना शर्त माफी मांगने के बाद वह इस मामले को आगे नहीं बढ़ाएगा। हालाँकि, दास ने इससे इनकार करते हुए संकेत दिए कि मामले की गंभीरता को देखते हुए इसे आगे तक ले जाया जाएगा।