समाचार
वॉट्सैप ने अफवाह रोकने हेतु उठाया सख्त कदम, एक ही चैट पर संदेश कर सकेंगे साझा

कोरोनावायरस की महामारी के बीच झूठी खबरों और अफवाह को रोकने के लिए मंगलवार (7 अप्रैल) को फेसबुक के स्वामित्व वाले वॉट्सैप ने फॉरवर्ड किए जाने वाले संदेशों पर नई सीमा लागू करने की घोषणा की। अब लगातार फॉरवर्ड होने वाले संदेशों को एक चैट पर भेजने की सीमा तय कर दी गई है।

कंपनी ने अपने बयान में कहा, “संदेश को फॉरवर्ड करने की सीमा पहले पाँच थी और अब इसे सीमित कर दिया गया है। संदेश एक समय में केवल एक चैट पर भेजा जा सकेगा। ज्यादा मात्रा या स्वचालित संदेश भेजने वाले प्रति माह 20 लाख खातों पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है।”

भारत में वॉट्सैप के पिछले वर्ष 40 करोड़ से अधिक उपयोगकर्ता थे। कंपनी ने तब उन संदेशों की अवधारणा से उपयोगकर्ताओं को परिचित करवाया, जो कई बार फॉरवर्ड किए गए थे। इन संदेशों को दोहरे तीरों के साथ दर्शाया जाने लगा, ताकि पता चल सके कि वो संदेश कहीं और से आए हैं।

वॉट्सैप ने बताया, “हमने साझा होने वाले संदेशों को आगे बढ़ाने के लिए सीमा सीमित कर दी थी। इससे उस वक्त विश्व स्तर पर संदेश फॉरवर्ड करने के मामलों में 25 प्रतिशत की कमी आई थी।”

फिलहाल, वॉट्सैप एनजीओ और कई सरकारों के साथ काम कर रहा है। इसमें विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और 20 से अधिक देशों के स्वास्थ्य मंत्रालय भी शामिल हैं, ताकि लोगों को सही जानकारी से जोड़ने में मदद मिल सके। इसने वॉट्सैप कोरोनावायरस हब की घोषणा की है।