समाचार
वॉट्सैप के माध्यम से अब किसी को भी भेज सकते हैं पैसे, एनपीसीआई से मिली अनुमति

दो वर्ष के इंतजार के बाद वॉट्सैप भुगतान सेवा को 160 से अधिक समर्थित बैंकों के साथ यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) पर लाइव जाने के लिए नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) से अनुमति मिल गई है।

भारत में 40 करोड़ से अधिक वॉट्सैप उपयोगकर्ता अब सुरक्षित रूप से दोस्तों और परिवार को पैसे भेज सकते हैं। यह भुगतान सुविधा आईफोन और एंड्रॉइड उपयोगकर्ताओं के लिए उपलब्ध है, जो ऐप के नवीनतम संस्करण में है।

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने शुक्रवार को बयान में कहा, “मैं इस बात से उत्साहित हूँ कि वॉट्सैप को भारत भर में भुगतान शुरू करने की अनुमति मिल गई है। हम एनपीसीआई के साथ काम कर रहे हैं। हमने इसे भारत के यूपीआई का उपयोग करके बनाया है, जो किसी के लिए भी अलग-अलग ऐप में तुरंत भुगतान स्वीकार करना आसान बनाता है।”

भुगतान अब 10 भारतीय क्षेत्रीय भाषा संस्करणों में उपलब्ध है। जकरबर्ग ने कहा, “वॉट्सऐप के जरिए पेमेंट करने के लिए केवल यूपीआई समर्थित डेबिट कार्ड की आवश्यकता होगी और आप सीधे पेमेंट कर सकेंगे। आप इसे वॉट्सैप के लेटेस्ट वर्जन में पा सकते हैं।”

वॉट्सैप ने भारत में 2018 में पेमेंट फीचर का परीक्षण शुरू किया था लेकिन विनियामक बाधाओं और डेटा अनुपालन मुद्दों के कारण यह सुविधा लॉन्च नहीं कर सका।

कंपनी ने सूचित किया, “हम भारत के पाँच अग्रणी बैंकों के साथ काम करके बहुत खुश हैं। इसमें आईसीआईसीआई, एचडीएफसी, एक्सिस, एसबीआई और जियो पेमेंट्स बैंक शामिल हैं। लोग यूपीआई समर्थित ऐप का उपयोग करके किसी को भी वॉट्सैप नंबर पर पैसे भेज सकते हैं।भुगतान सुविधा को सुरक्षा और गोपनीयता सिद्धाँतों के एक मजबूत सेट के साथ बनाया गया है। इसमें प्रत्येक भुगतान के लिए एक व्यक्तिगत यूपीआई पिन दर्ज करना होगा।”