समाचार
ममता की धमकी से पीछे नहीं हटे बंगाल के डॉक्टर, देश के कई हिस्सों में हड़ताल

कोलकाता के एनआरएस मेडिकल कॉलेज में दो जूनियर डॉक्टरों पर हमला होने के बाद पश्चिम बंगाल में चार दिन से चल रही हड़ताल का असर अब दिल्ली और मुंबई में भी देखने को मिल रहा है।

नवभारत टाइम्स  की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय चिकित्सा संघ (आईएमए) ने हड़ताल का समर्थन करते हुए अखिल भारतीय विरोध दिवस घोषित कर दिया है। दिल्ली मेडिकल असोसिएशन के अलावा पटना और रायपुर एम्स के डॉक्टर भी हड़ताल को समर्थन दे रहे हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने डॉक्टरों को गुरुवार दोपहर दो बजे तक काम पर लौटने की चेतावनी दी थी, जिसको अनसुना कर डॉक्टरों ने हड़ताल जारी रखी है। उनका कहना है, “सुरक्षा संबंधी माँग पूरी होने तक हड़ताल जारी रहेगी।”

कोलकाता के एनआरएस मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में एक मरीज की मौत के बाद भीड़ ने दो जूनियर डॉक्टरों पर हमला कर दिया था। इसके बाद से डॉक्टर हड़ताल पर हैं। उनका कहना है, “सभी अस्पताल में सशस्त्र पुलिस बल तैनात हों और हमले में शामिल अपराधियों को गैर ज़मानती धाराओं में गिरफ्तार किया जाए।”

दिल्ली में एम्स (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) और सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों ने सेवाओं के बहिष्कार करने का ऐलान किया है। यहाँ रोज ओपीडी में 10,000 से अधिक मरीज आते हैं। इसी तरह महाराष्ट्र असोसिएशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स (एमएआरडी) ने भी डॉक्टरों की हड़ताल को समर्थन दिया है।