समाचार
लाउड्स्पीकर विवाद- सुधार की जगह पश्चिम बंगाल पुलिस ने मंदिर में की तोड़-फोड़

कथित तौर पर पश्चिम बंगाल पुलिस ने कोलकाता न्यू टाउन के निकट गाँव पठारखाटा में एक मंदिर में तोड़फोड़ की, माई नेशन  ने रिपोर्ट किया। स्थानीय लोगों ने बताया कि शुरुआत में पुलिस ने एक धार्मिक कार्यक्रम में लाउड्स्पीकर पर विरोध जताया था लेकिन धीरे-धीरे बात बढ़ी और पुलिसवालों ने मंदिर में तोड़-फोड़ शुरू कर दी। इसके बाद ग्रामीणों ने भी पुलिस पर हमला किया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने रात को लाउड्स्पीकर बजाने से रोका था लेकिन स्पीकर बंद किए जाने पर भी पुलिसवाले आए और तोड़-फोड़ शुरू कर दी। इसके बाद ग्रामीण विरोध में उतर आए और सड़कें जाम कर दी व टायर जलाए। उन्होंने दुकानें बी बंद कर दी और पुलिस वाहन से तोड़-फोड़ की।

मामले को बढ़ता देख ज़ोन वन के उपायुक्त रबींद्रनाथ बैनर्जी और सहायक आयुक्त सीपी अनिमेश रे घटनास्थल पर पहुँचे। इसके बाद उन्होंने मामले में जाँच के आदेश दिए और वादा किया कि दोषियों को सज़ा मिलेगी।

इससे पहले राज्य में सरस्वती पूजा के उत्सव पर भी तनाव हुआ था जब कुछ कट्टरपंथियों ने ज्ञान और संगीत की देवी की पूजा का विरोध किया था।