समाचार
ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हमले का वीडियो जारी, मस्जिद में बदलने की दी धमकी

पाकिस्तान में ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर शुक्रवार को मुसलमानों की गुस्साई भीड़ ने हमला कर दिया। साथ ही उन्होंने उसे नष्ट करके उसकी जगह मस्जिद बनाने की भी धमकी दी।

गुरुद्वारे पर जब हमला किया गया, तब सिख श्रद्धालु उसके अंदर फंसे हुए थे। सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रहे वीडियो में नज़र आ रहा है कि भीड़ ने अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ सांप्रदायिक और घृणित नारे लगाए और धर्मस्थल पर पथराव किया।

एक वीडियो में आदमी यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वे ननकाना साहिब से उस स्थान का नाम बदलकर गुलाम-ए-मुस्तफा करेंगे। उस गुरुद्वारा के स्थान पर एक मस्जिद का निर्माण करेंगे। वीडियो में बच्चों सहित बड़ी संख्या में लोगों का भीड़ दिखाई दे रही है, जिन्हें अल्लाह-हू-अकबर और नारा-ए-तकबीर चिल्लाते हुए सुना जा सकता है।

गुस्साई भीड़ का नेतृत्व मोहम्मद हसन के परिवार ने किया था। यह वही मोहम्मद हसन है, जिसने कथित तौर पर गुरुद्वारे के ग्रंथि की बेटी का अपहरण कर लिया था। उसके बाद सिख लड़की जगजीत कौर का जबरन धर्मांतरण करवा दिया था। इस परिवार ने कथित तौर पर गुरुद्वारे पर पथराव किया और घृणित नारे लगाए।

गुरु नानक की जन्मस्थली ननकाना साहिब गुरुद्वारा पर हुए हमले की निंदा करने के लिए शनिवार (4 जनवरी) को नई दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायुक्त के बाहर कई सिख समूहों के साथ भारत के सिखों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

एक आधिकारिक बयान में भारत ने पवित्र धर्मस्थल को नष्ट करने और उसकी अपवित्रता की कड़ी निंदा की। साथ ही पाकिस्तान से समुदाय की सुरक्षा करने के लिए तत्काल कदम उठाने को कहा।