समाचार
तेजस के पहले संस्करण के लड़ाकू विमान ने बेंगलुरु में सफलतापूर्वक उड़ान भरी

एक प्रमुख विकास के रूप में मंगलवार (17 मार्च) को रक्षा और एयरोस्पेस प्रमुख हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा स्वदेशी रूप से विकसित किए गए तेजस लड़ाकू विमान की खेप के पहले संस्करण के विमान ने निर्णायक संचालन मंजूरी (एफओसी) मानक (एसपी-21) के तहत सफलतापूर्वक उड़ान भरी।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, परीक्षण उड़ान का एक वीडियो रक्षा वेबसाइट लाइवफिस्ट द्वारा साझा किया गया था।

उड़ान 40 मिनट की अवधि के लिए भरी गई और पूर्व भारतीय वायु सेना (आईएएफ) एयर कमोडोर केए मुथाना (सेवानिवृत्त) द्वारा संचालित की गई थी। उन्होंने एचएएल द्वारा बनाए गए अत्याधुनिक लड़ाकू विमान की बेंगलुरु के एचएएल एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी।

तेजस लड़ाकू विमान के इस संस्करण में हवा से हवा में ईंधन भरना और बियांड विजुअल रेंज (बीवीआर) मिसाइल सिस्टम सरीखे कई अत्याधुनिक और उन्नत सुविधाएँ हैं।

इस बात पर भी गौर किया जाना चाहिए कि सेंटर फॉर मिलिट्री एयरवर्थनेस एंड सर्टिफिकेशन (सीईएमआईएलएसी) द्वारा रेखांकन उपयुक्तता सूची (डीएएल) और मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी होने के बाद तेजस लड़ाकू विमान का एफओसी एसपी-21 संस्करण एचएएल द्वारा 12 महीनों के रिकॉर्ड समय में विकसित किया गया है।