समाचार
पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में चौथे चरण के मतदान के दौरान हिंसा, पाँच लोगों की मौत

पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में चौथे चरण के मतदान के दौरान हिंसा, पाँच लोगों की मौत

पश्चिम बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान शनिवार (10 अप्रैल) को कूचबिहार में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई। इस दौरान केंद्रीय सुरक्षाबलों की तरफ से की गई कथित गोलीबारी में चार लोगों की मौत हो गई। इससे पूर्व, पहली बार मतदान करने पहुँचे एक युवक की मतदान केंद्र के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, “घटना कूचबिहार के शीतलकुची क्षेत्र में हुई थी। वहाँ पर मतदान हो रहे हैं। शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक, एक गाँव में हमले के बाद सीआईएसएफ ने कथित गोलीबारी की। इसमें चार लोगों की मौत हो गई। यहाँ हाथापाई हुई थी और उन्होंने केंद्रीय सुरक्षाबलों को घेर भी लिया था।”

उन्होंने आगे कहा, “गाँव के लोगों ने सीआईएसएफ की राइफल छीनने का प्रयास किया, जिसके बाद कथित तौर पर गोलियाँ चला दी गई थीं।” अब मामले को लेकर चुनाव आयोग ने जिले के अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है।

उधर, कूचबिहार जिले के एक मतदान केंद्र के बाहर अज्ञात लोगों ने पहली बार वोट डालने आए युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। तृणमूल कांग्रेस का आरोप है कि घटना के पीछे भाजपा का हाथ है। एक पुलिस अधिकारी का कहना है कि आनंद बर्मन को सिताल्कुची के पठानतुली क्षेत्र में बूथ नंबर 85 के बाहर खींचकर लाया गया और गोली मार दी गई।

उन्होंने कहा, “घटना के बाद टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ता भिड़ गए। मतदान केंद्र के बाहर बमबाजी होने लगी, जिससे कई लोग घायल हो गए। केंद्रीय सुरक्षाबलों को स्थिति नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा।”