समाचार
सीएए- हिंसा और फायरिंग से अलीगढ़ में माहौल फिर तनावपूर्ण, इंटरनेट बंद

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लेकर अलीगढ़ के कई क्षेत्रों ऊपरकोट, बाबरी मंडी, शाहजमाल और चरखवालान में धरना प्रदर्शन और जुलूस के दौरान रविवार को जमकर हंगामा, पथराव और फायरिंग हुई। सोशल मीडिया पर अफवाहों को रोकने के लिए जिले में 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, ऊपरकोट क्षेत्र में पथराव और फायरिंग हुई। फायरिंग में कारोबारी तारिक घायल हो गया, जिसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया। एक जगह आग लगा दी गई और कोतवाली इंस्पेक्टर की कार पर पथराव कर दिया गया, जिसमें वो बच गए।

इसी क्षेत्र में मौके पर मौजूद रहे पुलिस, पीएसी और आरएएफ ने आंसू गैस के गोले दागे। शाम तक यहाँ पर जबरदस्त तनाव रहा। हालात पर काबू पाने के लिए दूसरे जनपदों से पुलिस फोर्स को बुलाया गया है।

दरअसल, दोपहर डेढ़ बजे तुर्कमान गेट के पथवारी मंदिर में कुछ लोगों ने पथराव किया। इससे दो समुदाये के लोग आमने-सामने आ गए। पुलिस ने हालात संभाल लिए। इसी बीच, बाबरी मंडी में प्रदर्शनकारियों ने घरों और पुलिस पर पथराव कर दिया। कुछ लोगों ने एक बाइक में आग लगा दी। यह तनाव दिल्ली के जाफराबाद में पथराव की खबर के बाद भड़का था।

जिलाधिकारी ने कहा, “शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया है। कोतवाली के बाहर दो दिन से बैठी महिलाओं को पुलिस प्रशासन ने समझाने की कोशिश की लेकिन रविवार शाम को एएमयू की कुछ छात्राएँ आईं और उन्होंने महिलाओं को भड़का दिया। इसके बाद उन्होंने पुलिस की गाड़ी पर पथराव किए।”