समाचार
कानपुर लाते वक्त एसटीएफ की गाड़ी पलटी, गैंगस्टर विकास दुबे मुठभेड़ में मारा गया

आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी कुख्यात अपराधी विकास दुबे शुक्रवार (10 जुलाई) तड़के कानपुर लाते वक्त मुठभेड़ में मारा गया। उसे तत्काल गंभीर हालत में हैलट अस्पताल ले जाया गया था।

आज तक की रिपोर्ट के अनुसार, विकास दुबे को जिस एसटीएफ के काफिले की गाड़ी से मध्य प्रदेश से लाया जा रहा था, वो कानपुर टोल प्लाजा से 25 किलोमीटर दूर दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी।

हादसे के बाद विकास दुबे मौका देखकर हथियार छीनते हुए भाग निकला। पुलिस भी उसके पीछे भागी। करीब 7 से 8 किमी दूर तक वह भागा और उसके बाद वहाँ पर मुठभेड़ शुरू हुई। इसमें अपराधी गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया लेकिन उससे पहले ही उसके मारे जाने की खबर आ गई।

दुर्घटना को लेकर उत्तर प्रदेश एसटीएफ ज्यादा जानकारियाँ देने से कतरा रही है। माना जा रहा है कि तेज बारिश और गाड़ी की गति तेज होने की वजह से वह पलट गई। घटनास्थल पर अभी किसी को जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है। हालाँकि, पुलिस ने उसके मारे जाने की पुष्टि कर दी है।

बता दें कि विकास को गुरुवार को उज्जैन से गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद मध्य प्रदेश पुलिस ने उसे उज्जैन कोर्ट में पेश कर देर शाम यूपी एसटीएफ की टीम को सौंप दिया था।