समाचार
यौन शोषण मामले की जाँच कर रहे वैटिकन के पादरी पर ही लगे आरोप, दिया त्यागपत्र

पोप फ्रांसीस को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि कैथोलिक चर्चों में यौन शोषण के मामलों का निरीक्षण करने वाले वैटिकन के पादरी हरमन गीज़लर ने खुद पर यौन शोषण के आरोपों के बाद धर्म सिद्धांतों की मंडली के सदस्य पद से त्यागपत्र दे दिया है, वॉशिंगटन पोस्ट  ने रिपोर्ट किया।

पिछले वर्ष पूर्व नन डॉरिस वैग्नर ने 2009 में कन्फेशन सत्र के दौरान एक अनामित पादरी पर योन शोषण का आरोप लगाया था। पिछले सप्ताह डॉरिस ने नाम उजागर करते हुए हरमन गीज़लर का नाम लिया।

नेशनल कैथोलिक रिपोर्टर (एनसीआर) को डॉरिस ने बताया कि 2014 में उन्होंने धार्मिक मंडली के अधिकारियों को यह बतया था। इसके बाद उन्हें कहा गया कि गीज़लर ने अपराध स्वीकार कर लिया है, वे क्षमाप्रार्थीं है व उन्हें चेताया भी जा चुका है।

वैग्नर का कहना है कि यह बहुत बुरा और चर्च की कार्यवाही को इस रूप में देखा जा सकता है कि गीज़लर चर्च में उच्च पद पर बने रहे। यह आरोप तब सामने आया है जब कुछ दिनों बाद पोप फ्रांसीस कैथोलिक बिशॉपों के साथ यौन शोषण रोकने पर चर्चा करने वाले हैं।