समाचार
योगी आदित्यनाथ का सरकारी विभागों में 50,000 रिक्त पदों पर भर्ती शुरू करने का निर्देश

उत्तर प्रदेश में रोजगार सृजन के लिए एक बड़े प्रोत्साहन के रूप में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को विभिन्न सरकारी विभागों में 50,000 से अधिक रिक्त पदों के लिए भर्ती शुरू करने का निर्देश दिया है।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, योगी आदित्यनाथ ने यूपी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (यूपीएसएसएससी) को दो चरणों की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की अनुमति दी है। यह अनुमानित है कि चयन प्रक्रिया का पहला भाग लिखित परीक्षा के रूप में होगा, जिसमें 100 प्रश्न होंगे। इसके बाद परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को फिर अंतिम परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा, जो उस पद के आधार पर होगा जिसके लिए वे आवेदन कर रहे हैं।

इसके अलावा, आयोग 2020 से पहले गत दो वर्षों में उसके द्वारा आयोजित 13 भर्ती परीक्षाओं के परिणामों की घोषणा करना शुरू कर देगा, जिनके परिणाम अब भी आने बाकी हैं। परिणामों की घोषणा अगले दो महीनों में की जाएगी।

वर्तमान में पूरे यूपी में परिवार कल्याण विभाग में महिला स्वास्थ्य कर्मियों के 9212 पद, राजस्व विभाग में लेखपाल के 7882 पद, कृषि निदेशालय में सहायक समूह सी के 1817 पद, राजस्व विभाग में कनिष्ठ सहायक के 1137 पद, अकाउंट व ऑडिट विभाग में 1068 पद, गन्ना विभाग में सर्वेक्षक के 874 पद, प्रयोगशाला तकनीशियनों के 700 पद, वनरक्षक के 694 पद, अनुदेशकों के 622 पद और एक्स-रे तकनीशियन के 456 पद रिक्त बताए जाते हैं।