समाचार
चीन के घातक कदमों पर प्रश्न उठाकर बाइडन ने अमेरिका को 21वीं सदी जीतने को कहा

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने बुधवार (28 अप्रैल) को कहा कि 21वीं सदी जीतने के लिए अमेरिका चीन और अन्य देशों के साथ प्रतिस्पर्धा में है।

अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए जो बाइडन ने कहा, “चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग (चीन) दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण व परिणामी देश बनने के लिए घातक कदम बढ़ा रहे थे।”

उन्होंने कांग्रेस के अपने पहले संबोधन में कहा, “वह और अन्य तानाशाह सोचते हैं कि लोकतंत्र 21वीं सदी में तानाशाहों के साथ प्रतिस्पर्धा नहीं कर सकता है क्योंकि आम सहमति बनने में बहुत अधिक समय लगता है।”

आर्टिफिशयल इंटेलीजेंस जैसी उन्नत तकनीकों पर अमेरिका दुनिया के बाकी देशों से पीछे है इस पर जोर देते हुए बाइडन ने कहा, “अब देश को अनुसंधान और विकास पर अधिक निवेश करने की आवश्यकता है।”

उन्होंने कहा, “चीन और अन्य देश तेज़ी से बंद होने की कगार पर पहुँच रहे हैं। ऐसे में अमेरिका को उन्नत बैटरी, जैव प्रौद्योगिकी, कंप्यूटर चिप्स और स्वच्छ ऊर्जा सहित भविष्य के उत्पादनों और प्रौद्योगिकियों को विकसित करना होगा और इन पर जोर देना होगा।”