समाचार
डोनाल्ड ट्रंप का जाते-जाते चीन को झटका, शाओमी सहित नौ कंपनियाँ काली सूची में

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जाते-जाते चीन को बड़े झटके देते जा रहे हैं। अब देश के रक्षा विभाग ने गुरुवार (14 जनवरी) को नौ और चीनी कंपनियों को कालू सूची में डाल दिया है। इसमें फोन निर्माता शाओमी भी है। आरोप है कि यह भी चीनी सेना की देखरेख में है। इसके साथ जानकारी दी गई कि 40 से अधिक कंपनियाँ हैं, जिन्हें काली सूची में डाल दिया गया है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, रक्षा विभाग ने कहा, “हम पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (पीआरसी) सैन्य-नागरिक संलयन विकास रणनीति को उजागर करने और उसका सामना करने के लिए संकल्पित है, जो उन्नत तकनीकों और विशेषज्ञता तक पहुँच सुनिश्चित करता है। साथ ही उन्नत तकनीकों को विकसित करने के लिए पीएलए के आधुनिकीकरण लक्ष्यों का समर्थन करता है।”

शाओमी के अलावा जिन चीनी कंपनियों को काली सूची में डाला गया है, उनमें एडवांस्ड माइक्रो-फेब्रिकेशन इक्विपमेंट इंक, लुओकॉन्ग टेक्नोलॉजी कॉरपोरेशन, बीजिंग झोंगगुंगुन डेवलपमेंट इन्वेस्टमेंट सेंटर, गोविन सेमीकंडक्टर कॉर्प, ग्रांड चीन एयर कंपनी, ग्लोबल टोन कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी, चाइना नेशनल एविएशन होल्डिंग कंपनी लिमिटेड और कमर्शियल एयरक्राफ्ट कॉरपोरेशन ऑफ चाइना शामिल हैं।

बता दें कि गत वर्ष नवंबर में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए थे। इसमें अमेरिका के नागरिकों को काली सूची वाली कंपनियों में निवेश करने से रोक दिया गया था।