समाचार
अमेरिका ने उइगर मुसलमानों का शोषण करने वाली 11 चीनी कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध

अमेरिका ने चीन के पश्चिमी प्रांत शिनजियांग में मानवाधिकारों का उल्लंघन करने वाली 11 चीनी कंपनियों के एक समूह पर प्रतिबंध लगा दिया है। अमेरिकी वाणिज्य मंत्रालय ने इन सभी को काली सूची में डाल दिया है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, ये कंपनियाँ अपने उत्पाद तैयार करने के लिए क्षेत्र के 10 लाख उइगर मुसमलानों का जमकर शोषण करती हैं। इनमें से कई टेक्सटाइल कंपनियाँ हैं, जबकि दो कंपनियों ने उइगरों पर अपने उत्पादों का परीक्षण भी किया है।

काली सूची में डाली गईं कंपनियाँ अब अमेरिकी सरकार की अनुमति के बगैर देश से कोई कलपुर्जा नहीं खरीद सकेंगी। वाणिज्य मंत्री विल्बर रॉस ने कहा, “बीजिंग सक्रिय रूप से अपने नागरिकों को दबाने के लिए जबरदस्ती मजदूरी, अपमानजनक डीएनए संग्रह और विश्लेषण योजनाओं की निंदनीय प्रथा को बढ़ावा देता रहा है। यह कार्रवाई सुनिश्चित करेगी कि हमारे माल और प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल चीन में मुस्लिम अल्पसंख्यक आबादी के खिलाफ अपमानजनक हमले में न हो।”

बता दें कि इस तरह करीब 50 चीनी संस्थाएँ इस सूची में शामिल हो गई हैं, जिन्हें अमेरिकी प्रौद्योगिकी व अन्य वस्तुओं तक पहुँच बनाने से रोक दिया गया है।