समाचार
हिंदू धर्म को हिंसक बोलने के बाद उर्मिला मातोंडकर ने माना इसे शांति का प्रतीक

बॉलीवुड अभिनेत्री और हाल ही में कांग्रेस से जुड़ने वाली उर्मिला मातोंडकर हिंदू धर्म के खिलाफ टिप्पणी करने के बाद अब अपने ही बयान से मुकरती दिखी हैं। पहले हिंदू धर्म को सबसे हिंसक धर्म बोलने वाली उर्मिला ने एएनआई  के साथ साक्षात्कार में अपने शब्दों को पलटते हुए कहा कि उन्होंने शांतिपूर्ण धर्म हिंदू के खिलाफ नहीं बल्कि भाजपा की विभाजनकारी राजनीति के खिलाफ टिप्पणी की थी।

राजनीति में जुड़ते ही उर्मिला मातोंडकर के बयानों में बदलाव देखने को मिल रहा है। उनके द्वारा हिंदू धर्म के खिलाफ की गई इस टिप्पणी के बाद भाजपा और सोशल मीडिया पर सक्रिय लोगों ने उर्मिला का जम कर विरोध किया है। इस बयान के बाद उर्मिला सहित कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी और एक पत्रकार के खिलाफ भाजपा के प्रवक्ता द्वारा आपराधिक मामला भी दर्ज कर दिया गया है।

उर्मिला ने अपने बयान में कहा था  कि हिंदू धर्म सबसे ज़्यादा हिंसक धर्म है। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया कि उन्हें भाजपा सरकार पसंद नहीं है साथ ही कहा कि जो धर्म अपनी शांति के लिए जाना जाता था वह अब सबसे ज़्यदा हिंसक धर्म बन गया है।