समाचार
मुनव्वर राना के बेटे ने चाचा की संपत्ति हड़पने के लिए स्वयं पर करवाया था झूठा हमला

उत्तर प्रदेश पुलिस ने शुक्रवार (2 जुलाई) को कहा कि प्रसिद्ध उर्दू शायर मुनव्वर राना के बेटे तबरेज़ ने अपने चाचा की संपत्ति हासिल करने और मीडिया का ध्यान आकर्षित करवाने के लिए स्वयं पर हमला करवाया था।

तबरेज़ राना ने 29 जून को रायबरेली पुलिस को पत्र लिखकर दावा किया था कि वह जब गाड़ी में पेट्रोल भरवाने के लिए पेट्रोल स्टेशन पर पहुँचे थे तो दो अज्ञात बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया था। उन्होंने दावा किया कि दो लोगों ने उनकी एसयूवी पर गोलियाँ भी चलाई थीं।

मुनव्वर राना के बेटे ने पत्र में अपने चाचा पर हमला करवाने का आरोप लगाया था। हालाँकि, उत्तर प्रदेश पुलिस को जो सीसीटीवी फुटेज हासिल हुआ है, उसके आधार पर तबरेज़ के इस दावे का खंडन किया गया है कि उन पर हमला हुआ था। पुलिस ने कथित तौर पर कहा कि हमला करने वाले लोग उनके परिचित थे और उन्हें हमले की व्यवस्था में देखा जा सकता है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि तबरेज़ ने हलीम और सुल्तान के साथ मिलकर चाचा को संपत्ति विवाद में फंसाने षड्यंत्र रचा था। पुलिस ने चार आरोपियों हलीम, सुल्तान, शुभम और सतेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है और तबरेज़ की तलाश जारी है।