समाचार
प्रदर्शनकारी जेएनयू छात्रों के विरुद्ध दिल्ली में यूपीएससी आकांक्षियों का विरोध प्रदर्शन

बुधवार (27 नवंबर) को दिल्ली के कनॉट प्लेस में स्वयं को यूपीएससी आकांक्षी कहने वालों के समूह ने आंदोलनकारी जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्रों के खिलाफ नारे लगाए।

“हम यूपीएससी आकांक्षी यहाँ कुछ कपड़े खरीदनेे आए थे पर जब हमने सुना कि कुछ जेएनयू के छात्र प्रधानमंत्री मोदी को अपशब्द कह रहे हैं तो हमसे रहा नहीं गया और हमने उन सबके विरुद्ध नारेबाज़ी की।”, पुनीत उपमन्यु ने कहा जो 10 अन्य छात्रों के साथ मिलकर नारेबाज़ी कर रहे थे।

यूपीएससी आकांक्षियों को सुरक्षा बलों ने कनॉट प्लेस के बी ब्लॉक के पास रोका जबकि जेएनयू के छात्रों ने अपना विरोध जारी रखा।

इससे पहले जेएनयू के छात्रों ने दिल्ली के सबसे अधिक लोकप्रिय स्थानों में से एक कनॉट प्लेस के आंतरिक घेरे में एक मानव श्रृंखला बनाई। जेएनयू के छात्रों का जामिया मिलिया इस्लामिया, एम्स और आईआईटी-दिल्ली सहित विभिन्न संस्थानों के छात्रों ने साथ दिया।

मंगलवार को जेएनयू प्रशासन ने विश्वविद्यालय के प्रदर्शनकारी छात्रों को शांत करने के लिए सेवा और उपयोगिता शुल्क में रियायत की घोषणा की थी। बता दें कि यह दूसरी बार था जब प्रशासन ने प्रस्तावित छात्रावास शुल्क वृद्धि में छात्रों को राहत देने का निर्णय किया था।

हालाँकि प्रशासन द्वारा जारी की गई छात्रवास शुल्क वृद्धि में राहत प्रदर्शनकारी छात्रों को शांत करने में विफल रही क्योंकि छात्र इस फैसले को पूरी तरह रद्द करने की मांग कर रहे हैं।

(आईएएनएस  के समाचार से)