समाचार
इज़रायल की सहायता से बुंदेलखंड में पानी की समस्या पर काम करेगी योगी सरकार

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “जल प्रबंधन में इज़रायल के विशेषज्ञ सूखे की मार झेल रहे बुंदेलखंड में पानी की उपलब्धता बढ़ाने के लिए अद्भुत काम कर सकते हैं।”

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, इज़राइल की तकनीक और यूपी की जनशक्ति के साथ एक नई कार्य संस्कृति का आह्वान करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “इज़रायल और बुंदेलखंड में कई भौगोलिक समानताएँ हैं। वह बुंदेलखंड में पानी की उपलब्धता बढ़ाने में मददगार साबित हो सकता है। हम बुंदेलखंड में साथ में परियोजना स्थापित करना चाहते हैं। एक बार यह सफल हो गया तो हम इसे राज्य के अन्य हिस्सों में भी पानी की समस्या दूर करने के लिए स्थापित करेंगे।”

मुख्यमंत्री ने भारत में इज़रायल के राजदूत रॉन मलका के साथ बैठक के दौरान तल अवीव्स की मदद से राज्य की पुलिस बल को आधुनिक बनाने के रास्ते तलाशे। उन्होंने कृषि, रक्षा, खाद्य प्रसंस्करण एवं विपणन, पेयजल और सिंचाई जैसे कई अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की।

योगी आदित्यनाथ ने भरोसा दिया कि उनकी सरकार सितंबर और नवंबर में इज़रायल के निमंत्रण पर क्रमशः रक्षा व पानी को लेकर होने वाले दो अंतर-राष्ट्रीय सम्मेलनों में भाग लेगी। इस बीच, मलका ने भरोसा दिया कि इज़राइल अपने रणनीतिक साझेदार भारत की 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने की महत्वाकांक्षी उम्मीदों को पूरा करने में मदद करेगा।