समाचार
मथुरा में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर बाहरी श्रद्धालुओं के प्रवेश पर लगाया गया प्रतिबंध

कोविड-19 की वजह से जन्माष्टमी समारोह को देखते हुए मथुरा प्रशासन ने 11 और 13 अगस्त के बीच तीन दिनों के लिए जिले में बाहरी लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

मथुरा के एसपी (अपराध) राधेश्याम राय ने कहा कि तीन दिनों के लिए जिले में सार्वजनिक प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक योजना तैयार की गई है।

उन्होंने कहा, “39 अवरोधों को अंतर-राज्यीय सीमाओं पर रखा जाएगा, जो राजस्थान व हरियाणा जैसे राज्य और आगरा, अलीगढ़, हाथरस और नोएडा सहित अन्य जिलों के साथ जुड़ते हैं।”

एसपी ने कहा, “हमने पड़ोसी राज्यों के जिला अधिकारियों को भी पत्र लिखा है, ताकि लोगों को सूचित किया जा सके कि मथुरा में जन्माष्टमी समारोह रद्द कर दिया गया है।” हालाँकि, सामान्य जन्माष्टमी अनुष्ठान मंदिरों में बंद दरवाजों के पीछे किए जाएँगे। आयोजकों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा।

जन्माष्टमी समारोह में हर साल लाखों श्रद्धालु मथुरा आते हैं। वृंदावन में बाँके बिहारी और प्रेम मंदिर सहित लोकप्रिय मंदिर क्रमशः 30 सितंबर और 31 अगस्त तक सार्वजनिक रूप से बंद रहेंगे।