समाचार
उन्नाव मामले में योगी सरकार की सीबीआई जाँच की माँग, भाजपा विधायक पर आरोप

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार देर रात निर्णय लेते हुए रायबरेली में उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिवार के सदस्यों की कार दुर्घटना के मामले की सीबीआई जाँच की सिफारिश के लिए केंद्र सरकार को औपचारिक पत्र भेज दिया है।

द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार, राज्य सरकार के इस मामले को सीबीआई को सौंपने के निर्णय के बाद उन्नाव के भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ एक एफआईआर भी दर्ज की गई। उनपर पहले से सामूहिक दुष्कर्म के आरोप लगे हैं।

रायबरेली में दुर्घटना के संबंध में आपराधिक साजिश और हत्या के लिए प्राथमिकी दर्ज की गई थी। ट्रक ने कार को इतनी जबरदस्त टक्कर मारी थी कि हादसे में दुष्कर्म पीड़िता और उसके वकील को गंभीर चोटें आई हैं, जबकि उसकी दो चाचियों की मौत हो गई।

एफआईआर में विधायक सेंगर के भाई मनोज समेत नौ अन्य लोगों, उनके सहयोगी और 15-20 अन्य अज्ञात व्यक्तियों का भी उल्लेख है। रेप पीड़िता के चाचा की शिकायत पर सेंगर के खिलाफ एफआईआर रायबरेली के गुरबख्शगंज पुलिस थाने में दर्ज की गई थी।