समाचार
स्क्रीनिंग के लिए 1 लाख टीमें, प्रतिदिन 25,000 कोविड-19 जाँच हों- योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने सोमवार (22 जून) को पूरे राज्य में 1 लाख स्‍क्रीनिंग और टेस्टिंग टीमें गठ‍ित करने के न‍िर्देश द‍िए। साथ ही उन्होंने प्रतिदिन 25,000 तक जाँचें करने की भी बात कही।

टाइम्स नाऊ हिंदी कि रिपोर्ट के अनुसार, मुख्यमंत्री ने अपने आवास पर टीम-11 की बैठक में सभी जिलाधिकारियों तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को कार्ययोजना बनाकर स्क्रीनिंग का बड़ा अभियान चलाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा, “कंटेनमेंट ज़ोन के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी सर्वे के माध्यम से स्क्रीनिंग की जाए।”

योगी आदित्यनाथ ने कहा, “टीमों की संख्या में बढ़ोतरी कर 1 लाख तक की जाए। उन्होंने स्क्रीनिंग में संदिग्ध पाए गए व्यक्तियों के उपचार की पूरी व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए। स्क्रीनिंग टीम को पल्स ऑक्सीमीटर, इंफ्रारेड थर्मामीटर तथा सैनिटाइजर आदि अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराए जाएँ।”

उन्होंने कोविड-19 परीक्षण की क्षमता को 25,000 प्रतिदिन करने के भी निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि परीक्षण व्यवस्था के तहत एन्टीजेन टेस्ट आदि को जरूरत के अनुसार अपनाए जाने पर विचार किया जाए। साथ ही उन्होंने कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना कार्य तेज करने, मंत्रियों द्वारा कोविड हेल्प डेस्क का निरीक्षण करने और डीजीपी यूपी से व्‍यवस्‍थाओं का निरीक्षण करने को कहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा, “कोविड-19 अस्पतालों में मरीजों की दवा, भोजन आदि की उपलब्धता पर ध्यान दिया जाए। मरीजों के पीने के लिए गुनगुने पानी की व्यवस्था की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ नियमित राउंड लगाते रहें।

उन्होंने प्रदेशवासियों से कोरोनावायरस से न घबराने की अपील की। उन्होंने कहा कि जागरूकता कार्यक्रम लगातार आयोजित किए जाते रहेंगे। अस्पतालों में पीपीई किट, एन-95 मास्क, ग्लव्स, सैनिटाइजर आदि की सुचारू व्यवस्था के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए।