समाचार
फ्रांस की अध्यक्षता में मसूद अज़हर पर प्रतिबंध लगाने के लिए सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव

पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर आतंकी हमला करने वाले संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अज़हर पर प्रतिबंध लगाने के लिए संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद में प्रस्ताव लाया जाएगा। बुधवार को अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने यह प्रस्ताव प्रस्तुत किया और इस प्रस्ताव में पुलवामा हमले की भी बात कही गई है, दैनिक भास्कर  ने बताया।

इस प्रस्ताव में मसूद की वैश्विक यात्राओं पर प्रतिबंध लगाने और उसकी सारी संपत्ति जब्त करने की मांग रखी गई है। हालाँकि चीन ने अभी इसपर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

1 मार्च से फ्रांस इस परिषद की अध्यक्षता करेगा और इसने कहा है कि इस प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा।

इससे पहले भी यह प्रस्तान तीन बार परिषद में प्रस्तुत किया जा चुका है। 2009 में भारत ने प्रस्ताव रखा था। 2016 में भारत, अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन के समर्थन से दूसरी बार प्रस्ताव लेकर आया और तीसरी बार 2017 में भी ऐसा प्रस्ताव लाया गया। चीन ने हर बार इसमें तकनीकी त्रुटि बताकर इसे रोक दिया।