समाचार
उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के हादसे की जाँच के लिए सीबीआई को 15 दिन का अतिरिक्त समय

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की कार दुर्घटना के मामले की जाँच के लिए सर्वोच्च अदालत ने केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) को 15 दिनों का और समय दिया है। एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, जाँच एजेंसी को जाँच पूरी करने के लिए दो सप्ताह का अतिरिक्त समय दिया गया है।

30 जुलाई को दुष्कर्म पीड़िता एक कार दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गई थी, जिसे एक तेज रफ्तार ट्रक ने सामने से टक्कर मार दी थी। हादसे में दुष्कर्म पीड़िता और उसका वकील गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जबकि दो अन्य लोगों मौसी और चाची की मौके पर मौत हो गई थी। पीड़िता ने सेंगर पर 4 जून 2017 को अपने आवास में उसके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया है।

सड़क दुर्घटना के बाद अदालत ने इससे जुड़े सभी मामले राज्य से बाहर दिल्ली स्थानांतरित कर दिए हैं। साथ ही सीबीआई को 15 दिनों के भीतर सड़क दुर्घटना में जाँच खत्म करने को कहा। मामले में सीबीआई ने सेंगर और 9 अन्य लोगों के अलावा 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है।

सीबीआई ने भाजपा से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और अन्य आरोपियों के घर पर छापे मारे हैं। इसके अलावा, उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की दुर्घटना के मामले में चार जिलों लखनऊ, बांदा, उन्नाव और फतेहपुर की 17 जगहों पर अपनी टीमें भेज दी हैं।