समाचार
कोटा में शिशुओं की मौत- केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने गठित की उच्चस्तरीय टीम

कोटा के जेके लोन सरकारी अस्पताल में एक महीने में 104 शिशुओं की मौत पर अशोक गहलोत सरकार घिर गई है। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एक उच्‍चस्‍तरीय टीम का गठन किया है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, उच्चस्तरीय टीम में एम्‍स जोधपुर के विशेषज्ञ डॉक्‍टर, हेल्‍थ फाइनेंस ऐंड रीजनल डायरेक्‍टर और जयपुर हेल्‍थ सर्विस के लोग शामिल होंगे। यह टीम शुक्रवार को कोटा स्थित सरकारी अस्‍पताल पहुँचेगी। इस मामले में बसपा प्रमुख मायावती ने भी कांग्रेस सरकार पर हमला बोला।

उधर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, “सीएए और एनआरसी से ध्यान भटकाने के लिए इस मामले को तूल दिया जा रहा है। इस वर्ष शिशुओं की मौत के आँकड़ों में पिछले कुछ वर्षों की तुलना में काफी कमी आई है। मैंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से बात की है और उनसे कहा है कि वह खुद आकर व्यवस्था देखें।”

मामले की गंभीरता को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सक्रिय हो गई हैं। गुरुवार को उन्होंने पार्टी के राज्य प्रभारी अविनाश पांडे से ताजा हालात और अशोक गहलोत सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी ली। उन्होंने राज्य सरकार से मामले में ठोस कदम उठाने के निर्देश दिए। इस पर सरकार ने अपनी रिपोर्ट सोनिया गांधी को भेज दी है।