समाचार
पूर्वोत्तर दिल्ली दंगे- जेएनयू नेता उमर खालिद समेत जामिया के दो छात्रों पर यूएपीए

पूर्वोत्तर दिल्ली के दंगों के सिलसिले में पुलिस ने सामाजिक कार्यकर्ता व जेएनयू छात्र नेता उमर खालिद और जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों मीरान हैदर व सफोरा ज़गर के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियाँ (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत मामला दर्ज किया है।

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, प्राथमिकी में दिल्ली पुलिस ने दावा किया कि खालिद और दो अन्य लोगों ने पूर्वोत्तर दिल्ली दंगों को लेकर एक पूर्व नियोजित साजिश रची थी। उन पर देशद्रोह, हत्या, हत्या के प्रयास, धर्म के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने और हत्या करने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

प्राथमिकी में कहा गया कि खालिद ने कथित तौर पर राष्ट्रीय राजधानी में दो भड़काऊ भाषण दिए और भीड़ को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान सड़कों पर उतरकर रास्ता जाम करने को कहा था।

दो अन्य आरोपी हैदर और ज़रगर, जो जामिया समन्वय समिति के सदस्य हैं, पहले से ही पुलिस हिरासत में हैं। हैदर एक राजद युवा नेता है, जो जामिया से पीएचडी कर रहा है, जबकि जरगर एक एमफिल छात्र है।