समाचार
यूके में रिपब्लिक भारत के प्रसारण वाली कंपनी पर बड़ा जुर्माना, नफरत फैलाने का आरोप

ब्रिटिश प्रसारण नियामक ने अर्णब गोस्वामी के हिंदी समाचार चैनल रिपब्लिक भारत पर एक बहस के दौरान पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ कथित नफरत भरा भाषण देने पर यूके में प्रसारित करने का लाइसेंस रखने वाली एक फर्म पर 20,000 पाउंड का जुर्माना लगाया है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार (22 दिसंबर) को वर्ल्डव्यू मीडिया नेटवर्क लिमिटेड के खिलाफ अपने आदेश में ऑफिस ऑफ कम्युनिकेशंस या ऑफकॉम ने कहा, “नियामक संस्था के कार्यकारी ने पाया कि 6 सितंबर 2019 को रिपब्लिक भारत के ‘पूछता है भारत’ शो में घृणास्पद भाषण और दिखाई गई सामग्री संभावित रूप से अधिक आक्रामक थी।”

आदेश में कहा गया, “शो में ऐसे बयान शामिल थे, जिनके खिलाफ अभद्र भाषा का उपयोग किया गया था और ये बहुत भड़काऊ थे। इसमें राष्ट्रीयता के आधार पर पाकिस्तानी लोगों के बारे में आपत्तिजनक और अपमानजनक बातें कही गई थीं।”

ऑफकॉम ने कहा, “ये बयान संभावित रूप से किसी भी व्यक्ति की भावनाओं को ठेस पहुँचा सकते थे। प्रसारित किए गए ‘पूछता है भारत’ एपिसोड में संभावित रूप से हानिकारक और आक्रामक प्रकृति की सामग्री को राजनीतिक संदर्भ से जोड़ा गया था।”

नियामक ने आगे कहा, “उसने माना कि कार्यक्रम में पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ अभद्र भाषा को पर्याप्त चुनौती या संदर्भ के बिना प्रसारित किया गया था। यह संभवतः विशेष रूप से हानिकारक था। इससे भारत और पाकिस्तान मूल के लोगों के बीच पहले से ही तनावपूर्ण संबंध को और नुकसान पहुँचाने की आशंका थी।”

हालाँकि, उल्लंघन पर ऑफकॉम ने कहा, “केवल एक ही प्रसारण शामिल था और चालू नहीं था। ऐसे में वर्ल्डवाइड मीडिया नेटवर्क लिमिटेड ने भविष्य के उल्लंघनों को रोकने के लिए कुछ कदम उठाए हैं, जिसमें बहस के लाइव प्रसारण को रोकना भी शामिल है।”