समाचार
उइगर मुस्लमों पर चीन के अत्याचार के विरोध में अमेरिकी संसद में विधेयक पारित

संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए) की संसद में उइगर मुस्लिमों को हिरासत में लेने से चीनी अधिकारियों को रोकने के लिए लाया गया विधेयक पारित हो गया है। अब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की स्वीकृति के लिए यह विधेयक वाइट हाउस जाएगा, अमर उजाला  ने रिपोर्ट किया।

उइगर मुस्लिमों के विरुद्ध चीनी अधिकारियों के अत्याचार पर प्रतिबंध को अधिकृत करने के लिए यह विधेयक लाया गया था। इसके विरोध में केवल एक ही मत पड़ा, शेष वोट इसके पक्ष में थे। इससे दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ने की संभावना है।

अमेरिका की प्रतिनिधि सभा की अध्यक्षा नैन्सी पलोसी ने कहा कि यदि अमेरिका चीन में हो रहे मानवाधिकारों उल्लंघन पर कुछ नहीं कहेगा तो वह नैतिकता की बात करने का अधिकार खो देगा।

दूसरी ओर इस विधेयक के अलावा अमेरिका के विदेश सचिव माइक पॉम्पियो ने ट्वीट करके कहा कि हांगकांग चीन से स्वायत्त नहीं है। इस कथन से हांगकांग का व्यापारिक दर्जा प्रभावित हो सकता है।