समाचार
चीन के बंदी शिविरों में उइगर महिलाओं से होता है दुष्कर्म, दी जाती हैं यातनाएँ- रिपोर्ट

चीन के शिनजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिम महिलाओं से सामूहिक दुष्कर्म और यातनाओं की घटनाओं को लेकर बीबीसी ने इन बंदी शिवरों से भागी महिलाओं, सुरक्षाकर्मियों और जाँचों के आधार पर एक रिपोर्ट जारी की है। वहाँ से भागी एक महिला ने इन बातों की पुष्टि की है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, रिपोर्ट में एक उइगर मुस्लिम महिला ने अपना दुखड़ा सुनाया है। उसका दावा है कि चीन के पुनः शिक्षा वाले शिविरों में योजनाबद्ध तरीके से महिलाओं से दुष्कर्म और यौन उत्पीड़न होता है। उन्हें कई तरह की यातनाएँ दी जाती हैं।

इस रिपोर्ट के बाद कई प्रमुख अमेरिकी सांसद, नेता और मानवाधिकार संगठनों ने अपना विरोध जताया है। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में एक जाँच की मांग की है।

शिविर से भागकर अमेरिका पहुँचीं तुरुसुने जियावुटुन ने बताया, “महिलाओं को हर रात उठा लिया जाता था और मास्क पहने लोग उनके साथ दुष्कर्म करते थे। मेरे साथ दो से तीन लोगों ने तीन बार ऐसा किया है।”

रिपोर्ट में वहाँ तैनात सुरक्षाकर्मी के हवाले से भी यह बात कही गई है। चीन का कहना है कि ये शिविर मुस्लिमों व अन्य समुदाय के लोगों को दोबारा शिक्षित करने के लिए बनाया गया है।