समाचार
दंतेवाड़ा में नक्सलियों से मुठभेड़ में शामिल हुईं महिला कमांडो, दो दहशतगर्द ढेर

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों से मुठभेड़ में एसटीएफ के साथ महिला कमांडो ने भी हिस्सा लिया। इसमें दो नक्सलियों को मार दिया गया है।

फर्स्टपोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, दंतेवाड़ा के अरनपुर के पास गोंदरस जंगल में बुधवार सुबह पाँच बजे नक्सलियों और डीआरजी-एसटीएफ की संयुक्त टीम के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई। इसमें दो नक्सलियों को ढेर कर दिया गया। एक आईएनएसएएस राइफल, गोला-बारूद के साथ 12 बोर का एक हथियार और अन्य खतरनाक सामग्री घटनास्थल से बरामद की गई हैं।

एंटी नक्सल ऑपरेशन में महिलाओं ने भी कमांडो के रूप में डीआरजी के लड़ाकों का साथ दिया। इन्हें दंतेश्वरी लड़ाके का नाम दिया गया है। यह राज्य की पहली महिला डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) की टीम है।

एसपी अभिषेक पल्लव ने जानकारी दी, “मुठभेड़ में डीआरजी की महिला कमांडो ने भी साथ दिया। इसमें नक्सल काडर या फिर सस्पेंड किए हुए नक्सलियों की पत्नियों को शामिल किया जाता है। इस टीम में कुल 30 महिलाएँ हैं, जिन्हें हर तरह का प्रशिक्षण दिया गया है।”

उन्होंने आगे कहा, “सभी सुरक्षाकर्मियों के सुरक्षित होने की सूचना है। आसपास के इलाकों में तलाशी अभियान तेज कर दिया गया है।”