समाचार
तिहाड़ में एक कैदी ने जेल का माहौल बिगाड़ने के लिए पीठ पर लिखा अल्लाह, जाँच शुरू

तिहाड़ जेल में एक कैदी की पीठ को जलाकर उसपर अल्लाह लिखे जाने का मामला सामने आया है। पीड़ित ने प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया है। वहीं जेल प्रशासन कह रहा है, “जेल का माहौल बिगाड़ने के लिए यह उसकी सोची-समझी साजिश है।”

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, मामले की जाँच की जा रही है। कैदी ने जेल अधीक्षक और अन्य अधिकारियों से मामले की शिकायत की है। तिहाड़ जेल के एडिशनल आईजी राजकुमार ने कहा, “कैदी ने यह खुद से जानबूझकर किया है, ताकि जेल का माहौल बिगाड़ा जा सके।”

घटना तिहाड़ की जेल नंबर-3 में कुछ दिन पहले की बताई जा रही है। इससे पूर्व जेल नंबर-4 में भी एक कैदी के शरीर पर ओम लिखा गया था। तब कैदी ने जेल के स्टाफ पर जबरदस्ती ओम लिखने का आरोप लगाया था। बाद में जेल प्रशासन ने सारे आरोपों का खंडन किया था।

रिपोर्ट के अनुसार, जाँच में कुछ ऐसी बातें सामने आ रही हैं, जिससे कैदी का आरोप संदिग्ध लग रहा है। पीठ पर अल्लाह लिखने के लिए चूने का इस्तेमाल किया गया है। जेल के अंदर चूना कहाँ से आया, इसकी जाँच चल रही है। इसी जेल नंबर-3 में संसद भवन पर हमले का दोषी आतंकवादी अफजल गुरु भी बंद था, जिसे बाद में फाँसी पर लटकाया गया था। प्रताड़ित कैदी के सारे दस्तावेजों की जाँच की जा रही है।