समाचार
शशि थरूर की नरेंद्र मोदी की प्रशंसा पर आलोचना, केरल कांग्रेस ने मांगा स्पष्टीकरण

केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (केपीसीसी) अपने नेता और तिरुवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करने वाले उनके कथनों का जवाब मांगेगी। पार्टी के कई कार्यकर्ताओं की शिकायत के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने अपनी टिप्पणियों को स्पष्ट भी किया।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, शशि थरूर ने रविवार को कांग्रेस के अन्य नेताओं के विचारों का समर्थन करते हुए कहा था, “जयराम रमेश और सिंघवी ने जो कहा है, वो गलत नहीं है। अगर मोदी ने कुछ अच्छा किया है तो हमें इसे स्वीकार करना चाहिए। अन्यथा हम लोगों में विश्वसनीयता खो देंगे।”

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा था, “वो समय आ गया है कि जब हम मोदी द्वारा 2014 से 2019 के बीच किए गए उनके कार्यों को पहचानें। साथ ही यह भी जानने की कोशिश करें कि सत्ता में पुन: वापस लाने के लिए मतदाताओं ने उन्हें क्यों अपने मत दिए?”

हालाँकि, थरूर के बयान का केरल में पार्टी कार्यकर्ताओं ने समर्थन न करते हुए नकारात्मक प्रतिक्रियाएँ दी हैं। उन्होंने केपीसीसी प्रमुख मुल्लापल्ली रामचंद्रन से लिखित शिकायतों के साथ संपर्क किया है। रामचंद्रन ने कहा, “केपीसीसी इस मामले पर एआईसीसी को एक रिपोर्ट पेश करेगी, जो मामले पर अंतिम फैसला लेगी।”

पार्टी के एक अन्य सांसद के. मुरलीधरन ने कहा, “थरूर को भाजपा में शामिल होना चाहिए, जो प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करना चाहते हैं।” चालकुडी की कांग्रेस सांसद बेनी बेहनन ने कहा, “कांग्रेस नेतृत्व को यह पता लगाना चाहिए कि उन कांग्रेस नेताओं के मन में क्या चल रहा है, जो मोदी की आलोचना करते हुए असहज हो जाते हैं।”