समाचार
“जो संयोगवश हिंदू थे, आज राजनीति के लिए गोत्र और जनेऊ दिखा रहे हैं”- योगी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी पर सीधा निशाना साधते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लोग राजनीतिक फायदे के लिए अपना गोत्र तथा जनेऊ दिखाने लगे हैं।

राहुल गाँधी की तथाकथित ‘शिवभक्त’ तथा ‘जनेऊधारी’ की संज्ञा पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि जो खुद को ‘संयोगवश हिंदू’ कहते थे, आज खुद को हिंदू साबित करने की कोशिश कर रहे हैं। यह सही मायनों में सनातन धर्म की जीत है।

योगी ने कहा, “जिन लोगों ने खुद का हिंदू होना संयोगवश बताया था, आज उन्हें यह अहसास हो रहा है कि वे भी हिंदू हैं। उन्हें लग रहा है कि यह संयोगवश नहीं है और वे सही मायनों में हिंदू हैं। अब उन्हें अपनी गोत्र तथा जनेऊ याद आ रहा है। मैं समझता हूँ कि यह सनातन धर्म की जीत है, यह हमारे विश्वास की जीत है।”, इंडियन एक्सप्रेस  की रिपोर्ट में बताया गया।

कुंभ मेले की हो रही आलोचनाओं का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि कुछ लोग हैं जो हिंदू धर्म को ‘दलित विरोधी’ बताते हैं जो कि असत्य है। वे लोग हिंदू धर्म की अपकीर्ति चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इसी तरह की राजनीति सबरीमाला मंदिर के मुद्दे पर भी की जा रही है जहाँ वे लोग भी अपने बयान दे रहे हैं जो कभी मंदिर गए ही नहीं।

उन्होंने कहा कि कुंभ मेले में सभी जातियों के लोगों की भागीदारी रही है और यह हमारा आध्यात्मिक वैभव दर्शाता है। उन्होंने कहा कि वेदों में बहुत से छंद दलित संतों ने लिखे हैं और जिन्होंने भगवान राम का चरित्र लिखा है, वे वाल्मीकि भी दलित थे किंतु उस वर्ग के साथ भेदभाव होता रहा है।

योगी ने कहा कि जो लोग कुंभ मेले की आलोचना कर रहे हैं उनका उद्देश्य भारतीय संस्कृति को तबाह करना है तथा विदेशी सहयोग से वे लोग ऐसा करने का प्रयास कर रहे हैं।