समाचार
टूलकिट का तीसरा आरोपी शांतनु मुलुक शिवसेना नेता का भाई, पुलिस पहुँची महाराष्ट्र

स्वीडन की जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग द्वारा साझा किए गए टूलकिट के मामले में दिल्ली पुलिस शांतनु मुलुक की तलाश कर रही है, जो महाराष्ट्र के बीड के रहने वाले हैं।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस ने दिशा रवि को पहले ही बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया था। वह पुलिस टूलकिट मामले में मुंबई की एक वकील निकिता जैकब की तलाश में है। रिपोर्ट के अनुसार, मुलुक बीड में शिवसेना के जिला प्रमुख सचिन मुलुक का चचेरा भाई है।

सचिन मुलुक ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि शांतनु पर्यावरणविद् थे और किसानों के आंदोलन का समर्थन कर रहे थे। दिल्ली पुलिस ने कथित तौर पर 12 फरवरी को शांतनु के माता-पिता से संपर्क किया। उनके घर में तलाशी और पूछताछ के लिए एक टीम बीड पहुँची थी।

शांतनु के पिता शिवलाल ने कहा, “वे सुबह 5 बजे आए और लगभग 2 से तीन घंटे तक पूछताछ की। वे विनम्र थे। हमने उन्हें बताया कि हमें नहीं पता कि वह कहाँ है।” दिल्ली पुलिस के अनुसार, जैकब और मुलुक ने कथित रूप से 22 वर्षीय कार्यकर्ता दिश रवि के साथ मिलकर गूगल टूलकिट बनाया था।

साइबर सेल के संयुक्त पुलिस आयुक्त प्रेम नाथ ने कहा, “ईमेल खाता शांतनु द्वारा बनाया गया था और वह उसका मालिक है। बाकी अन्य सभी ने उसका संपादन किया है।”