समाचार
एफएटीएफ की बैठक से पूर्व पाकिस्तानी सेना के कब्जे से फरार आतंकी मसूद अज़हर

पेरिस में होने वाली फाइनेंशियल टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की बैठक से पूर्व आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अज़हर पाकिस्तान सेना की कैद से फरार हो गया है। इसे पाकिस्तान के लिए एक बड़ा झटका बताया जा रहा है क्योंकि अब उसके काली सूची में जाने की संभावना बढ़ गई है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, पड़ोसी देश के मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) के संस्थापक अल्ताफ हुसैन ने जानकारी दी, “संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकी घोषित मसूद अज़हर पाकिस्तान सेना की कैद से गायब हो गया है। आतंकी के गायब होने से पाकिस्तान के प्रतिबंधित संगठनों को लेकर बनाई गई नीति पर सवाल खड़े हो गए हैं।”

उन्होंने ट्वीट किया, “एफएटीएफ की बैठक से पूर्व अज़हर और उसके परिवार के गायब होने की खबरें आई हैं।” दूसरे ट्वीट में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटारेस की पाकिस्तान यात्रा पर अपनी चिंता व्यक्त की है।

एमक्यूएम नेता ने पूछा कि क्या संयुक्त राष्ट्र प्रमुख अपनी चार दिवसीय यात्रा के दौरान सिंध, बलूचिस्तान और खैबर पख्तूनख्वा के राज्यों का दौरा करेंगे। सात ही वहाँ रहने वाले लोगों की दमन की कहानियाँ सुनेंगे।

बता दें कि पेरिस में 19 फरवरी को होने वाली बैठक में एफएटीएफ यह समीक्षा करेगा कि क्या आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान ने अपनी कार्ययोजना को सही तरीके से कार्यान्वित किया है या नहीं।