समाचार
तूतूकोड़ी में स्टरलाइट संयंत्र ऑक्सीजन उत्पादन के लिए तमिलनाडु सरकार ने दी अनुमति

तमिलनाडु सरकार ने सोमवार (26 अप्रैल) को ऑक्सीजन उत्पादन को ध्यान में रखते हुए चार महीने की अवधि के लिए तूतूकोड़ी में स्टरलाइट तांबा संयंत्र को फिर से चालू करने की अनुमति दी है।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, यह निर्णय तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में लिया गया था क्योंकि वेदांता ने ऑक्सीजन बनाने को संयंत्र खोलने की अनुमति देने के लिए सर्वोच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था।

पलानीस्वामी की अध्यक्षता में हुई बैठक में सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के अनुसार, तूतूकोड़ी में वेदांता के स्टरलाइट इंडस्ट्रीज को चार महीने के लिए बिजली की आपूर्ति की अनुमति दी जा सकती है।

बैठक में कहा गया है कि संयंत्र में तांबा गलाने की गतिविधियों को किसी भी कीमत पर अनुमति नहीं दी जाएगी। तमिलनाडु सरकार ने हिंसक विरोध के बाद 2018 में तांबा गलाने वाले संयंत्र को बंद करने का आदेश दिया था, जिसके कारण 13 लोगों की मौत हो गई थी।

चार लाख टन का स्टरलाइट तांबा गलाने वाला संयंत्र लगभग 3,000 करोड़ रुपये के संचयी निवेश के साथ 25 वर्षों से तूतूकोड़ी में चल रहा है।

मद्रास उच्च न्यायालय के तूतूकोड़ी में स्टरलाइट तांबा गलाने वाले संयंत्र को फिर से खोलने से मना करने के खिलाफ कंपनी ने सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी, जिसकी सुनवाई चल रही है। अब अगली सुनवाई अगस्त में निर्धारित की गई है।