समाचार
तालिबान ने अमेरिकी सेना की वापसी के बीच अफगानिस्तान की सेना पर हमले तेज़ किए

तालिबान ने अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बीच अफगानिस्तान की सेना के विरुद्ध अपने हमले तेज़ करते हुए रविवार (20 जून) को दो प्रांतीय राजधानियों में प्रवेश कर लिया। इससे पूर्व, वे दर्जनों ग्रामीण जिलों पर अपना नियंत्रण स्थापित कर चुके थे।

अमेरिकी सेना से समर्थन खोने के बीच अफगान सेना को विद्रोहियों के हमले ने पीछे धकेल दिया है। इस कारण गत कुछ सप्ताह में कई सैनिक पकड़े गए, कइयों ने आत्मसमर्पण किया और उनके कई हथियारों को नुकसान पहुँचा है।

कुंदुज दो प्रांतीय राजधानियों में से एक है, जिसमें तालिबान ने गत सप्ताह के अंत में प्रवेश किया था। यह 2015 व 2016 में विद्रोहियों के हाथ से चला गया था। अफगान सरकार की सेना तालिबान को पीछे धकेलने और अमेरिकी हवाई हमलों व विशेष बलों के समर्थन से शहर पर नियंत्रण वापस लेने में कामयाब रही थी।

हालाँकि, इस बार अफगान सेना तालिबान द्वारा किए गए सभी क्षेत्रीय लाभ को उलटने में सक्षम नहीं हो सकती है। जैसे-जैसे देश में युद्ध बढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे अफगान सेना को भारी क्षति हो रही है। एक हालिया युद्ध में अफगान सेना की एक समर्थ इकाई ने हमले में 20 से अधिक कमांडो खो दिए थे।

वहीं, कई सौ अफगान सैनिकों को पकड़ लिया गया या उन्होंने आत्मसमर्पण कर दिया। तालिबान द्वारा सैकड़ों सैन्य वाहन और हथियारों का एक बड़ा जखीरा भी जब्त किया गया।