समाचार
तालिबान ने अफगानिस्तान के 85 प्रतिशत क्षेत्र पर नियंत्रण की घोषणा की

तालिबान ने घोषणा की कि अफगानिस्तान के क्षेत्र पर अब उसका 85 प्रतिशत तक नियंत्रण हो गया है क्योंकि अमेरिका ने देश से अपनी सेना की वापसी पूरी कर ली है।

यह खुलासा तालिबान के एक वरिष्ठ प्रतिनिधिमंडल द्वारा मास्को की यात्रा के बाद किया गया, ताकि यह आश्वासन दिया जा सके कि अफगानिस्तान में आतंकवादी संगठन की प्रगति रूस या उसके मध्य एशियाई सहयोगियों के लिए खतरा नहीं है।

देश के 421 जिलों में से एक तिहाई से अधिक को नियंत्रित करने के उसके पिछले दावों की तुलना में 85 प्रतिशत दावा काफी अधिक है।

गत कुछ सप्ताहों में तालिबान ने उज्बेकिस्तान, तज़ाकिस्तान और ईरान के साथ अफगानिस्तान के प्रमुख सीमा क्रॉसिंग पर भी नियंत्रण कर लिया है। फिर भी अफगानिस्तान सरकार ने अभी तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

इस सप्ताह की शुरुआत में आतंकवादियों ने सैकड़ों अफगान सैनिकों को अफगानिस्तान की सीमा पार करके तज़ाकिस्तान जाने पर मजबूर किया था। वहाँ रूस का सैन्य अड्डा है। इस वजह से मास्को के अधिकारियों को अफगानिस्तान के उत्तर में स्थित मध्य एशियाई देशों को अस्थिर करने वाले तालिबान के बढ़ते प्रभुत्व की आशंका है, जो पहले सोवियत संघ के नियंत्रण में था।

एसोसिएटेड प्रेस की एक रिपोर्ट में तालिबान के प्रतिनिधि मावलवी शहाबुद्दीन दिलावर के हवाले से कहा गया, “हम अफगान नागरिकों को ना मारने के लिए प्रांतीय राजधानियों पर अधिकारी नहीं जमाएँगे।”