समाचार
मंथन के बाद ‘अमृत पान’- प्रयागराज कुंभ में कई विदेशियों ने अपनाया सनातन धर्म

विश्व के सबसे बड़े धार्मिक सम्मेलन- कुंभ मेला में आए कई विदेशियों ने सनातन धर्म को अपनी जीवन शैली के रूप में अपनाया है, एएनआई  ने रिपोर्ट किया। इन लोगों ने मोक्ष की ओर जाने के लिए सनातन धर्म को अपनाया है और इनमें से कई धर्म के बारे में जानकारी एकत्रित कर रहे हैं जिससे वे अपने देश लौटकर इन विचारों को संचारित कर सकें।

कई पुरुष और महिलाएँ अपना सर मुंडवाकर माथे पर चंदन का तिलक लगाए हुए जीवन के धार्मिक व्यवहार को मनाने के लिए पूजा-पाठ करते देखे जा सकते हैं। रघुनाथ रज्जी जो इन विदेशियों की सनान धर्म अपनाने में सहायता करते हैं, ने बताया कि लगभग 20 स्टॉल लगाए गए हैं जो उन्हें आवश्यक जानकारी व सहायता प्रदान करते हैं। उन्होंने यह भी बताया कि इस स्थापना से लगभग 500 विदेशियों ने सनातन धर्म अपनाया है।

कुंभ विश्व में विश्व का सबसे बड़ा जन समूह उमड़ता है और लाखों भक्त इस पर्व में सहभागिता निभाते हैं। सैंकड़ों वर्षों पुरानी इस परंपरा में गंगा में डुबकी लगाने से पाप मुक्त होने की मान्यता है।