समाचार
ताइवान में नहीं चलेगा चीन समर्थक चुंग टीएन टीवी, चैनल का प्रसारण लाइसेंस अस्वीकृत

ताइवान के मीडिया नियामक राष्ट्रीय संचार आयोग (एनसीसी) ने चुंग टीएन टेलीविजन (सीटीआई) के प्रसारण लाइसेंस को नवीनीकृत करने के खिलाफ फैसला किया है। दरअसल, यह एक चीन समर्थक टीवी स्टेशन है। एनसीसी द्वारा लोगों से मिलने वाली करीब 30 प्रतिशत शिकायतें सीटीआई के संबंध में ही आ रही हैं।

द गार्जियन की रिपोर्ट की रिपोर्ट के अनुसार, चैनल में आत्म अनुशासन की समस्या है। एनसीसी के कई बार अनुरोधों के बावजूद इस समस्या को सुधारा नहीं गया। सीटीआई की मूल कंपनी वॉन्ट वॉन्ट चाइना होल्डिंग्स का नेतृत्व चीन समर्थक बड़े उद्योगपति बैरन त्साई इंग-मेंग के पास है।

चैनल पर बीजिंग और ताइवान के विपक्षी कुओमिनतांग (केएमटी) की पैरवी का आरोप है। इसे सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (डीपीपी) के बारे में नकारात्मक प्रचार-प्रसार करने के लिए कहा जाता है। सीटीआई ने एनसीसी के फैसले पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा, “ताइवान की स्वतंत्रता के बाद से 30 वर्षों में प्रेस और बोलने की स्वतंत्रता का यह सबसे काला दिन है।”

एनसीसी ने 2019 में एक ऑडिट किया था। इसमें मालूम चला था कि सीटीआई ने अपना 70 प्रतिशत एयरटाइम केएमटी राजनेता हान कुओ-यू को समर्पित किया था, जिन्होंने पिछले राष्ट्रपति चुनावों में वर्तमान ताइवान के प्रमुख त्साइ इंग-वेन को चुनौती दी थी। हान ने पिछले महीने असहमतिपूर्ण मीडिया की कवरेज का मुद्दा उठाया था। सीटीआई को उन कुछ मीडिया चैनलों में से एक के रूप में बुलाया, जो उन समूहों को एक आवाज देते हैं और चीन का पूर्ण एकीकरण चाहते हैं।

चीन के एक पूर्व जासूस वांग लिआंग ने पहले कहा है कि शी जिनपिंग की सरकार ने इस साल ताइवान में चुनावों से पहले डीपीपी के प्रतिकूल कवरेज के लिए सीटीआई को भुगतान किया था।