समाचार
स्विगी ने 500 शहरों में किया विस्तार, 2019 के अंत तक 100 नए शहर पहुँचने का लक्ष्य
आईएएनएस - 7th October 2019

गुजरात के हिम्मतनगर से लेकर असम के जोरहाट तक घर-घर खाना पहुँचाने वाली स्विगी ने 500 और शहरों में अपनी सेवाओं का विस्तार किया है। कंपनी ने यह विस्तार अपने प्रतिद्वंद्वी जोमैटो को टक्कर देने के लिए किया है।

सोमवार को अपनी योजना का खुलासा करते हुए कंपनी ने बताया, “हमने पिछले 6 महीनों में 60,000 नए रेस्त्राँ जोड़े हैं। अब दिसंबर 2019 तक हम 600 शहरों में अपना और विस्तार करेंगे।

स्विगी के मुख्य परिचालन अधिकारी विवेक सुंदर ने कहा, “500 शहरों और 75 विश्वविद्यालयों में उपस्थिति के साथ हमारी देश में पहले से ही व्यापक पहुँच है। हम दिसंबर 2019 तक 600 शहरों और 200 विश्वविद्यालयों में इसका और विस्तार करेंगे।”

सुंदर ने कहा, “हमारी योजना उपभोक्ताओं के जीवन को सुविधाजनक बनाने की है। जैसे कि हम देश के एक अरब लोगों को सेवा देने के उद्देश्य से काम कर रहे हैं। ऐसे में टियर-3 और टियर-4 शहरों में पहुँच बढ़ाना हमारा महत्वपूर्ण कदम है। ”

स्विगी ने 2018 की शुरुआत में हर दो महीने में एक शहर में सेवा शुरू की थी। सितंबर के महीने में उन्होंने एक दिन में चार शहरों में सेवा शुरू की।

अप्रैल 2019 से स्विगी ने वर्तमान में रेस्त्राँ भागीदारों की संख्या करीब 1.8 गुना बढ़ाकर 1.4 लाख कर दी है। टियर-3 और टियर-4 शहरों में विशेष रूप से पिछले छह महीनों में स्विगी ने 15,000 से अधिक रेस्त्राँ के साथ जुड़कर काम किया है।

छोटे शहरों में विस्तार के अलावा स्विगी ने यह भी घोषणा की कि उसने 75 से अधिक विश्वविद्यालयों में अपनी सेवा का विस्तार किया है। इनमें आईआईटी रुड़की, एनआईटी कुरुक्षेत्र, आईआईटी खड़गपुर, एनआईटी कलीकट, बिट्स पिलानी और लवली प्रोफेशनल विश्वविद्यालय शामिल हैं।