समाचार
पाकिस्तान- सुषमा स्वराज की पहल से परिवार को सौंपी जाएँगी दोनों हिंदू लड़कियाँ

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान में अगवा की गई दो नाबालिग लड़कियों को तुरंत उनके परिवार तक पहुँचाने का आदेश दिया है। होली के दिन इन दो लड़कियों को घर से अगवा कर ज़बरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाया गया था और फिर इनका निकाह भी करवा दिया था।

अगवा की गई लड़कियों में 13 साल की लड़की का नाम रवीना और 15 साल  की लड़की का नाम रीना बताया जा रहा है। जब भारत ने इसके खिलाफ आवाज़ उठाई तो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को इस बात की जानकारी हुई जिसके बाद उन्होंने मामले की जांच के लिए आदेश दिए।

सुषमा स्वराज ने इस मुद्दे पर ट्वीट कर कहा, “पाकिस्तान में हिंदू लड़कियों का जबरन धर्म बदलवाया जा रहा है और वहाँ के प्रधानमंत्री को इस बात की खबर तक नहीं है, क्या उनको लगता है की 13 साल और 15 साल की नाज़ुक उम्र वाली लड़कियों को धर्म और विवाह के फैसले लेने की समझ भी होगी?”

इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने दोनों लड़कियों को सुरक्षित परिवार तक पहुँचाने के आदेश भी दे दिए हैं। अल्पसंख्यक परिवारों द्वारा कराची में प्रदर्शन करने के बाद सुषमा स्वराज ने इस मामले की जानकारी पाकिस्तान में स्थित भारतीय उच्चायोग से मांगी थी। मामले में अब तक एक क़ाज़ी सहित सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।