समाचार
सात महीने में चीनी उत्पादन 3.21 करोड़ टन पहुँचा, नया कीर्तिमान बनाने की उम्मीद

भारतीय चीनी मिल सँघ (इस्मा) ने कहा कि देश में चीनी उत्पादन अक्टूबर से शुरू हुए विपणन वर्ष में 3.3 करोड़ टन की नई रिकॉर्ड ऊँचाई को छू सकता है। अभी तक उत्पादन चालू विपणन वर्ष के पहले सात महीनों में 3.21 करोड़ टन तक पहुँच गया है।

2017-18 के विपणन वर्ष के दौरान देश का शुद्ध चीनी उत्पादन अपने आप में एक कीर्तिमान था। उस वक्त उत्पादन 3.25 करोड़ टन तक पहुँच गया था। इस्मा की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल, उत्पादन पहले ही तीन करोड़ 21 लाख टन तक पहुँच गया है, जबकि 30 अप्रैल तक केवल 100 मिले ही चालू रही हैं।

इस बीच सँगठन ने सँकेत दिया है कि मौसम के कारण कम वर्षा वाले प्रमुख राज्यों की तरह कम गन्ना उत्पादन होने और एथेनॉल उत्पादन के लिए गन्ना शीरे का उपयोग बढ़ने के कारण विपणन वर्ष 2019-20 में इसके उत्पादन में गिरावट आ सकती है।

इस साल उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 112.65 लाख टन उत्पादन हुआ है। उधर, महाराष्ट्र में 107 लाख टन और कर्नाटक में 43.20 लाख टन का उत्पादन हुआ है।

बाजार में चीनी की बहुतायत पर सरकार इसकी कीमत में कमी ला सकती है। साथ ही सरकार ने उत्पादकों को अधिक से अधिक निर्यात करने के लिए प्रोत्साहित किया है। फिलहाल अभी भारत में चीनी की माँग केवल 26 मिलियन टन है।