समाचार
भारतीय नौसेना की पहली पायलट बनीं बिहार की शिवांगी उड़ाएँगी निगरानी विमान

भारतीय नौसेना की पहली महिला पायलट सब लेफ्टिनेंट शिवांगी बन गई हैं। नौसेना के अनुसार, वह हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा तैयार किए गए ड्रोनियर 228 सर्विलांस विमान उड़ाएँगी।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, शिवांगी ने सोमवार को कोच्चि नवल बेस पर ऑपरेशनल कार्यभार संभाला। उन्हें जिस विमान को उड़ाने की जिम्मेदारी दी गई है, वह कम दूरी के समुद्री अभियान में भेजा जाता है। इसमें अग्रिम रेडार निगरानी तकनीक, इलेक्ट्रॉनिक सेंसर और नेटवर्किंग जैसी कई शानदार विशेषताएँ होती हैं।

शिवांगी बिहार के मुजफ्फरपुर की रहने वाली हैं। उन्होंने मुजफ्फरपुर के ही डीएवी पब्लिक स्कूल से पढ़ाई की। 27 एनओसी कोर्स के तहत उन्होंने एसएसी (पायलट) परीक्षा पास की और नेवी में कमिशन हुईं। शुरुआती ट्रेनिंग के बाद शिवांगी ने जून 2018 में ही नेवी में शामिल हुई थीं।

इससे पूर्व, भारतीय वायुसेना में भी फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत पहली महिला पायलट बनी थीं। उन्होंने फाइटर जेट उड़ाने के लिए क्वालिफाई किया था। उन्होंने मिग-21 एयरक्राफ्ट उड़ाकर यह सफलता हासिल की थी।