समाचार
कोरोनावायरस- सरकार का बीजिंग से भारतीय छात्रों को यात्रा की अनुमति हेतु अनुरोध

भारत ने चीन से अनुरोध किया है कि वह चीनी शहर वुहान में फंसे लगभग 200-250 भारतीय छात्रों को देश छोड़ने की अनुमति दे। वुहान को कोरोनावायरस का उपकेंद्र माना जा रहा है, जो एक वायरल, तेजी से फैलने वाला वायरस है जिसके कारण शहर में कुछ समय से ताला लगा हुआ है।

ये शहर आमतौर पर 700 से अधिक भारतीय छात्रों की मेजबानी करता है, लेकिन उनमें से अधिकांश चीनी नए साल की छुट्टियों के दौरान घर के लिए रवाना हुए थे और इस तरह चीनी सरकार द्वारा दिए गए बंद के निर्देशों से बच गए।

चीनी शहर के अधिकारियों ने वुहान और 17 अन्य शहरों में सभी सार्वजनिक और निजी परिवहन पर प्रतिबंध लगा दिया है। बंद से लगभग 5 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं। माना जा रहा है कि कोरोनावायरस के प्रकोप से अब तक (रविवार 26 जनवरी) 56 लोगों की मौत हो गई और इसके साथ कई और मौतों पर चीनी सरकार द्वारा पर्दा डालने का आरोप लगाया गया है। कहा जा रहा है कि 2000 से अधिक लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हैं।

थाईलैंड, दक्षिण कोरिया, जापान, ताइवान, संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा समेत अन्य देशों में इस वायरस की पुष्टि की गई है।